You are here

#इंफेक्शन, खुजली, सबका एक ही इलाज- सॉल्ट वॉटर बाथ थेरेपी

सॉल्ट वॉटर बाथ थेरेपी

एक चुटकी नमक जिस तरह से खाने का स्वाद बढ़ा देता है उसी तरह से एक चुटकी नमक आपकी सेहत को सेहतमंद भी बना देता है। इसके लिए केवल रोजाना सॉल्ट वॉटर बाथ लेने की जरूरत है। सॉल्ट वॉटर बाथ मतलब नमक के पानी से नहाना। रोजाना नमक के पानी से नहाने के कई सारे फायदे होते हैं। इन फायदों के बारे में इस स्लाइडशो में जानें।

इंफेक्शन दूर करे

गर्मियों में इंफेक्शन की समस्या अधिक होती है। ऐसा पसीने के कारण होता है। इस इंफेक्शन के कारण कई सारी बीमारियां शरीर को घर बना लेती हैं। इनसे बचने के लिए रोजाना ऑफिस या कॉलेज से घर जाने के बाद नमक के पानी से नहाएं।

दूर करे मांसपेशियों का दर्द

नमक गर्म करता है जिसके कारण जब हम नमक के पानी से नहाते हैं तो एक तरह से शरीर की सिकाई भी हो जाती हैं। ऐसे में अगर ऑफिस में बैठे-बैठे आपके पैरों व मांसपेशियों में काफी दर्द रहने लगा है तो रोजाना एक समय नमक के पानी से नहाएं। इससे जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द से राहत मिलेगी।

कीड़ों के काटने का दर्द कम करे

Mosquito bites

मच्छर, मधुमक्खी व मकड़ी के काटने से कई बार लोगों को एलर्जी हो जाती है और त्वचा पर निशान पड़ने लगते हैं। इस एलर्जी से बचने के लिए सॉल्ट वॉटर बाथ कारगर है। नमक वाले पानी से नहाने पर कीड़ों के डंक या जहर का असर खत्म हो जाता है जिससे काफी राहत मिलती है।

बीमारियांमुक्त रखे

शाम को सोने से पहले नमक के पानी से नहाने से मानसिक तनाव कम होता है। दरअसल नमक एक प्राकृतिक एक्सफोलिएटर है जिसके कारण इसके पानी से नहाने से शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और शरीर बीमारियों का घर नहीं बनता। इसके अलावा सॉल्ट वॉटर बाथ शरीर में कैल्शियम की कमी भी दूर करती और हड्डियां व नाखून मजबूत होते हैं।

 

Related posts

Leave a Comment